नाग पौधा की जानकारी – Snake Plant Information in Hindi

By | August 6, 2019

दोस्तों आज हम एक बार फिर आपके लिए एक अद्भूत पौधे की जानकारी ले कर आये है जिसके बारे में शायद आपको पहले पता ना हो । यदि आपको लगता है की केवल plastic वाले पौधे को हीं जीवित रख सकते हैं, तो ऐसा नही है , एक और पौधा है जिसे कई कई सालो तक जीवित रखा जा सकता है । एक ऐसा हीं पौधा जो बहुत ही सहनशील पौधा कहलाता है , जिसे मारना मुश्किल है । जी हाँ आज हम आपको Snake plant के बारे में बताएँगे। क्या आप भी Snake plant सुन कर हैरान है ? ये नाम सुनते हीं मन में कई सवाल आये होंगे जैसे की क्या snake plant दिखने में भी सांप के जैसा हीं होता है ? यह पौधा कहाँ देखने को मिलता है , आदि । आपके मन में उठ रहे इन्ही सवालो का जवाब आज हम अपने इस article में ले कर आएं है ।

Snake plant or Naag Paudha

इस लेख में हम ये बताने की भी कोशिश करेंगे की  नाग के पौधे को कैसे उगाया जाता है और इससे जुडी जानकारी ।

Introduction / परिचय :

Snake plant को “सास की जीभ” यानि की Mother-in-Law’s Tongue भी कहा जाता है । इस plant की देखभाल बहुत सीधी और आसान होती है । हफ्तों तक Ignore करने के बाद भी इस पौधे के पत्ते कठोर और वास्तुशिल्प आकार के साथ ताजा दिखते हैं।

नासा के शोध से यह भी पता चला है कि स्नेक प्लांट फॉर्मलाडिहाइड और बेंजीन जैसे विषाक्त पदार्थों को हटाकर आपके घर को अंदर से साफ रखने में मदद करता हैं। इसलिए हाउसप्लंट के रूप में use करने के लिए इस पौधे को बहुत हीं अच्छा माना जाता है।

पौधा / plant :

snake plant ऊंचाई में 18 इंच तक मोटी, नुकीली, खड़ी पत्तियां पैदा करता है। वे हल्के बैंड के साथ गहरे हरे रंग के होते हैं। ये पौधा  बहुत सुगंधित, क्रीम रंग के फूलों का एक स्तंभ पैदा करता है । इसके पत्ते का डिजाइन तलवार जैसा होता है । यह पौधा भूमिगत प्रकंदों द्वारा प्रजनन करते हैं और फैलते हैं। इसकी बड़ी सीधी किस्में आक्रामक होने के बिंदु तक फैल सकती हैं । 

Snake Plant पौधे की प्रजातियाँ / Varieties

Full grown snake plant

Snake plant की लगभग 70 प्रजातियां पाई जाती हैं, जो यूरोप, अफ्रीका और एशिया के उष्णकटिबंधीय और उप-उष्णकटिबंधीय area के मूल निवासी हैं । इस पौधे की सभी प्रजातियाँ  सदाबहार होते हैं और ये लगभग 8 इंच से 12 फीट की ऊंचाई तक कहीं भी बढ़ सकते हैं।

  1. Sansevieria trifasciata – ये सांप के पौधे की सबसे आम प्रजाति है। इसमें हल्के भूरे-हरे क्षैतिज पट्टियों के साथ गहरे हरे रंग की पत्तियां होती हैं। ये प्रजाति उष्णकटिबंधीय अफ्रीका का एक मूल निवासी है । यह एक मजबूत संयंत्र फाइबर की पैदावार करता है और कहा जाता है एक बार इसे शिकार के लिए धनुष का तीर बनाने हेतु भी इस्तेमाल किया गया था।
  2. Golden Hahnii – इस प्रजाति में पीले रंग की सीमाओं के साथ छोटे पत्ते होते हैं। इसकी पत्तियां केवल 6 से 8 इंच लंबी होती हैं। इस किस्म को अच्छी तरह से विकसित होने के लिए उज्ज्वल प्रकाश की आवश्यकता होती है।
  3. Bantel’s Sensation प्रजाति के पत्तियों में सफेद खड़ी धारियाँ होती हैं और यह लगभग 3 फीट लंबी होती हैं। इसे white snake plant भी कहा जाता है ।
  4. Rhino Grass, Sansevieria desertiiयह एक रसीले लाल रंग की पत्तियों के साथ लगभग 12 इंच तक बढ़ता है ।

Snake plant को कैसे उगाये :

How to take care of Snake Plant

  • Leaf cutting द्वारा सांप के पौधे को उगाना अपेक्षाकृत आसान होता है।
  • Leaf cutting के अलावा इस पौधों को फैलाने का सबसे आसान तरीका है इसकी विभाजन।
  • इसके लिए अच्छी तरह से ड्रेनिंग पोटिंग मिक्स का उपयोग करें।
  • इसे उगाने वक्त इस बात का खास ध्यान रखे की यह आसानी से सड़ सकते हैं । इसलिए इस पौधे को उगाने हेतु एक नि: शुल्क जल निकासी वाली मिट्टी का उपयोग करना चाहिए ।
  • ये पौधे मिट्टी की स्थिति के बारे में उधम नहीं मचाते और मिट्टी के 4.5 से 8.5 pH सीमा को सहन करते हैं।
  • इस पौधे की जड़ें मांसल प्रकंदों का उत्पादन करती हैं, जिन्हें केवल तेज चाकू से निकाल कर pot के ऊपर किया जा सकता है।
  • इसके लिए pot को पौधे के व्यास या पौधे के वर्तमान कंटेनर से एक आकार हीं चुनें। इसके लिए प्लास्टिक का pot अच्छा नहीं होता है, क्योंकि इसकी मजबूत जड़ें आसानी से pot को कमजोर कर के उसमे दरार पैदा कर सकती हैं ।
  • पौधे को 50 डिग्री फेरनहाइट (10 डिग्री celcius) से अधिक तापमान वाले गर्म स्थान पर रखें। वैसे इसके लिए 21 डिग्री से लेकर 32 डिग्री तक तक तापमान सबसे अच्छा होता है ।

पौधे की देखभाल :-

  • पौधे की एक बार सिचाई करने के बाद मिट्टी को अच्छे से सूखने दें तब जा कर दूसरी सिचाई करे ।
  • सर्दियों के दौरान महीने में केवल एक बार हीं सिचाई करे ।
  • पत्तो पर यदि धूल बैठ जाएँ तो उसे हटाने के लिए एक नम कपड़े से पत्तियों को पोंछ लें।
  • सांप के पौधे तेजी से बढ़ते हैं और उन्हें सालाना विभाजित करने की आवश्यकता हो सकती है।
  • एक भाग को पत्तियों और जड़ों दोनों से काटें और किसी बर्तन में अच्छी तरह से ड्रेनिंग पॉटिंग मिक्स करके रखें।
  • अधिक पानी के कारण जड़े का सड़ना सबसे आम मुद्दा है । तश्तरी को तुरंत खाली करें यदि उसमें पानी जमा होने लगे ।
  • नई वृद्धि स्पष्ट होने पर पौधे को वसंत में एक संतुलित 10-10-10 या 8-8-8 तरल उर्वरक डाले । देर से गर्मियों में आवेदन को दोहराएं।
  • ये कम प्रकाश में और सूखे में भी जीवित रह सकते है । इसमें कीट की समस्याएँ कम होती हैं। हालाँकि, कभी कभार यह माइलबग्स और स्पाइडर माइट्स से प्रभावित हो सकते है । ये कीट पत्तो से उसका रस चूस जाते है जो की पत्तो की कटौती का कारण होता है ।
  • स्लग या घोंघा क्षति के संकेत के लिए अपने पौधे की जांच करते रहे ।

 

रोचक तथ्य / interesting fact :

  • सभी विभिन्न ऑक्सीजन उत्पादक पौधों में से, यह पौधा एक अद्वितीय है क्योंकि यह रात में बहुत सारे CO2 (कार्बन डाइऑक्साइड) को O2 (ऑक्सीजन) में परिवर्तित करता है, जिससे आपके बेडरूम में कई आदर्श बन जाते हैं।
  • Mother-in-Law’s Tongue के अलावा इस पौधे को Devil’s Tongue, Bowstring Hemp, और Good Luck Plant के नाम से भी जाना जाता है ।
  • इस पौधे को low mantanace की जरुरत होती है । इसलिए इसकी सावधानीपूर्वक देखरेख करना आसान होता है ।
  • हाल ही में प्रकाशित एक अध्ययन का दावा है कि इनडोर वायु प्रदूषण बाहरी वायु प्रदूषण के समान घातक हो सकता है। इनडोर वायु प्रदूषण को कम करने के कई तरीके हैं, जिसमे से एक तरीका snake plant होता है ।
  • यह पौधे लम से कम 20 से 25 साल तक जीवित रह सकते हैं। यदि इसकी अच्छे से देखभाल की गई तो यह कई वर्षों तक जीवित रहेगा।
  • इसमें विषैलापन का स्तर कम होता है और यह पालतू जानवरों को संयंत्र से दूर रखने के में मदद करता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *