Pitcher Plant Information in Hindi – घटपर्णी कीटभक्षी पौधा

By | August 16, 2019

आज हम आपको Pitcher plant के बारे में बताने जा रहे है जो की एक मांसाहारी (Carnivorous plant है) ।  वैसे तो कई सारे पौधे ऐसे होते है जिसके बारे में जानना तो दूर कई लोग उसका नाम भी नही सुने होते है । आज हम ऐसे हीं एक पौधा के बारे में जानकारी देने जा रहे है जिसके बारे में शायद बहुत हीं कम लोग जानते होंगे । इस पौधे के बारे हम निचे कई सारी ऐसी जानकारियां provide की जा रही है जिसके बारे में शायद आपको भी ना पता हो । तो आइये जानते है Pitcher plant को Hind में ताकि आप भी इस रोचक पौधे से जुडी जानकारी प्राप्त कर सके |

Pitcher Plant Information in Hindi >> Trap Insects

Pitcher Plant in Hindi Name = घटपर्णी

परिचय  / Introduction

Pitcher plant जिसे हिंदी में घड़ा का पौधा कहते है एक मांसाहारी पौधे हैं जिनकी संशोधित पत्तियों को पिटफॉल ट्रैप के रूप में जाना जाता है। यह पौधा दुर्लभ और अद्वितीय होता हैं। यह plant Nepenthaceae  परिवार का सदस्य हैं । ये पौधे ज्यादातर दलदलो के गीले भाग में पाए जाते है । कहा जाता है की पूरे विस्तृत ब्रह्मांड में सबसे रहस्यमय पत्ती Pitcher का पौधा का है ।

Pitcher plant अपने नाम से मिलते जुलते दिखते भी हैं , इसका shape एक लम्बा घड़े (मटका) की तरह होता है । इसकी लम्बी संरचना के अंदर पानी का एक कुंड होता है । इस पौधे का फूल कच्चे मांस का रंग जैसे होते हैं, जो आगे मक्खियों को आकर्षित करने का काम करता है। पौधे का आंतरिक हिस्सा मोमी और फिसलन वाली होती हैं, और इसके ऊपर की ओर बाल होते हैं जो शिकार को फ़साने में मदद करते हैं ।

यह पौधा मिसिसिपी और लुइसियाना के कुछ हिस्सों में उगते हैं जहां मिट्टी खराब होती है और इसे अन्य स्रोतों से पोषक तत्वों का स्तर प्राप्त होता है । यह पौधा अपना पोषण उन कीटों से प्राप्त करते हैं जो वे “पकड़ते हैं । Pitcher plant में fleshy funnels और tubes होते हैं जो की कीटों और छोटे जानवरों के लिए जाल के रूप में कार्य करते हैं।

घटपर्णी पौधे के प्रकार / Types of Pitcher Plant

Red colour Pitcher plantPitcher plant के कई प्रजातियाँ होते है जो की सरकेनिया, नेपेंथेस और डार्लिंगटनिया नामों में पाए जाते हैं। इसके सभी प्रकार बाहरी रूप (यानि खुले में) से बढ़ने के लिए उपयुक्त नहीं हैं।

  1. नेपेंथेस – नेपेंथेस जीनस में लगभग 120 प्रजातियां हैं और वे पुरानी दुनिया के उष्णकटिबंधीय में बढ़ती हैं । इनके अधिकांश प्रजातियों को उच्च आर्द्रता, बहुत सारे पानी, और मध्यम से उच्च प्रकाश स्तर की आवश्यकता होती है ।
  2. वहीँ बैंगनी सरकेनिया जिसे Sarracenia purpurea कहते है इसमें 2 से 9 क्षेत्रीय की सहनशीलता होती है और यह कई क्षेत्रों के लिए असाधारण रूप से अनुकूल है। उत्तरी Pitcher plant बैंगनी सरकेनिया प्रकार का दूसरा नाम है और ये कनाडा में पाया जाता है ।
  3. पीला घड़ा का पौधा जिसे Sarracenia flava कहते है ये संयुक्त अमरीका राज्य के Texas और दलदली भागों में पाया जाता है।
  4. तोता घड़ा यानि की Sarracenia psittacina और हरा धब्बेदार घड़ा जो की पीला घड़ा पौधा के सामान होता है ये दोनों गर्म पौधा होता है । pitcher plant के ये दोनों प्रकार लुप्तप्राय प्रजातियों की सूची में पाए जाते हैं और ये बिक्री के लिए उपलब्ध नहीं होते है ।
  5. Cobra pitcher पौधा यानि की Darlingtonia californica केवल उत्तरी उत्तरी कैलिफोर्निया और दक्षिणी ओरेगन के मूल निवासी हैं।

जलवायु

Pitcher plant यानि की घड़े के पौधों के लिए सबसे अच्छा तापमान 16 से लेकर 21 डिग्री celcius तक के बीच का होता है । यह पौधा पूर्ण सूर्य की प्रकाश के अलावा उसकी छाया में भी पनपता है । ये पौधा April से October के बीच में पनपता है । लगभग 35 प्रतिशत आर्द्रता पौधों के लिए ठीक माना जाता है।

इस प्रकार के अजीबो-गरीब पौधे और भी हैं जैसे Rafflesia flower और Kopou Phool |

घटपर्णी कैसे उगाएं : How to Grow Pitcher plant

  • इस पौधे को बाहर की ओर उगाने और इसकी देखभाल इसकी साइट और मिट्टी से शुरू होती है।
  • इस पौधे को उगाने के लिए समृद्ध कार्बनिक मिट्टी की आवश्यकता नहीं है, लेकिन एक ऐसे मिट्टी की आवश्यकता है जो अच्छी तरह से नालियां बना सके जिससे आसानी से जल निकासी हो सके ।
  • इनडोर पौधों के लिए किसी भी प्रकार के pot का उपयोग कर सकते है और मिट्टी में कम उर्वरता मिश्रण प्रदान करें ताकी पौधा अच्छे से बढ़े ।
  • बाहरी पौधे के लिए थोड़ी अम्लीय मिट्टी अच्छी रहती हैं । इस पौधे को दलदली, नम मिट्टी की जरूरत होती है ।

पौधे की देखभाल / How to Take Care

Yellow color Pitcher plant

  • घड़े के पौधों की देखभाल न्यूनतम है।
  • इस पौधे को ठीक से विकसित करने के लिए पूर्ण एक्सपोज़र वाली दक्षिण की ओर की खिड़कियां इस प्लांट की पहली और प्रमुख पसंद है ।
  • इस पौधे को लगभग पूरे वर्ष गीला या कम से कम नम होना चाहिए। यदि आप सही ढंग से पानी देते हैं, तो सिद्धांत रूप में, पौधे के चारों ओर नमी का एक निरंतर स्रोत होगा ।
  • एक मांसाहारी पौधों को अम्लीय पानी की आवश्यकता होती है और लंबे समय तक तटस्थ या क्षारीय पानी का उपयोग करने से पौधे मरने लगते है । पौधों को पूरी तरह से सूखने न दें। सुनिश्चित करें कि आपके द्वारा उपयोग किया जाने वाला पानी या तो बारिश का पानी है या आसुत है, जिसमें नमक का स्तर कम है।
  • सर्दियों की सुप्त अवधि के शुरू होने पर सभी मृत पत्तियों को कैंची से काट कर उसे हटा दें।
  • यदि यह पौधा कीटों की पहुंच के बिना हिन् समय-समय पर बढ़ रहा है तो आप एक परिपक्व पौधे में कुछ छोटे कीड़े, जैसे कि मक्खी, या तिलचट्टा डाल सकते हैं। आमतौर पर इसकी जरूरत नहीं होती है ।

 रोचक तथ्य / Interesting Facts about Pitcher Plant 

  • कुछ कीड़े और जानवर घने पौधों के साथ सामंजस्यपूर्वक रहते हैं।
  • कुछ हिंसक जानवर जैसे की मकड़ियाँ छिपने के लिए इस पौधे का ढक्कन की तरह उपयोग करते हैं। वहीं कुछ कीट लार्वा, मच्छरों की तरह, पौधे के अंदर रहते हैं।
  • पौधे के अंदर मरने वाली चींटियों को अन्य शिकार को आकर्षित करने के लिए उनकी क्षयकारी गंध के लिए उपयोग किया जाता है।
  • कभी-कभी छोटे मेंढक पौधों में छिप जाते हैं और पौधे को आकर्षित करने वाली मक्खियों को खा जाते हैं।
  • एक बार अंदर जाने पर, कई कीटों को संरचना से बाहर निकलना मुश्किल हो जाता है, इसलिए वे अंततः तरल में डूब जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *