Cabbage Worm Information in Hindi – पत्ता गोभी कीड़ा की जानकारी

By | October 21, 2019

गोभी को बर्बाद करने वाले इस कीड़े को Cabbage worm या टेपवर्म कीट के नाम से जाना जाता है | यह Noctuidae परिवार से सम्बंधित एक छोटा कीट है, जिसे किसान “गोभी के कीड़े” या फिर ‘पत्ता गोभी के कीड़े’ के नाम से जानते हैं | यह गोभी एवं इससे मिलते-जुलते फसलों को खाकर जीवित रहने वाला कीट है | तो आइये जानते हैं, की यह टेपवर्म किस प्रकार का कीड़ा होता है तथा इसके नुकशान कौन से हैं |

Cabbage worm

English Name: Cabbage worm
Scientific Name: Pieris rapae
Family: Noctuidae

परिचय / About Cabbage worm

यह कीट आम तौर से हरे काले-सफ़ेद रंग में होता है, जिसका शरीर मखमली होता है | उनके शरीर में थोड़े फीके से पीले-पीले धरियां होती हैं | इन कीटों के मध्य पैर नहीं होते हैं, जिसके कारण वे ठीक प्रकार से चल नहीं पाते हैं | यह गोभी के अलावे और अन्य पौधों को भी नुक्सान पहुचता है जैसे:-

  • फूलगोभी
  • सरसों का साग
  • शलजम साग
  • मूली
  • शलजम

इस इन सब्जियों या फलों के फूलो तथा पौधों को खा कर ख़राब कर देता है | यह कीट दिखने में काले चिन्हों के साथ सफ़ेद रंग के तितली जैसे होते हैं, जो फसल को खराब करने के बाद बड़े ही आसानी से उड़ जाते हैं | ये खाश तौर से पौधों या पेड़ों की पत्तियों के निचे अंडे देते हैं |

जीवनकाल / Lifespan of Cabbage worm

ये कीटे आम तौर पर अंडे से निकलने के बाद लगभग 21 से 25 दिनों तक सब्जियों को खा कर जिन्दा रहते हैं | अंडे से निकलने के बाद यह कीड़े गोभी के फसल को बर्बाद करते हैं वे तितली के जैसे उड़ जाते हैं | अगर ये कीटे अपना भोजन ठीक प्रकार से प्राप्त करे तो ये लगभग 24 से 30 दिनों तक किट के रूप में बढ़ते हैं और पुरे बढ़ने पर तितली बन कर उड़ जाते हैं |

पत्ता गोभी के कीड़े नुकशान कैसे करता है

Cabbage worm in Cauliflower

सब्जियो को खराब करने वाले ये कीड़े जैसे  गोभी लूपर, डायमंडबैक मोथ लार्वा, आदि अपने भोजन को प्राप्त करने के लिए ही फसल को बर्बाद करते हैं | ये कीट आम तौर पर फलों या सब्जियों के अंदर घुसकर उन्हें बर्बाद कर सकते हैं | इसके अलावे ये फसल में छेद करके उन्हें गंभीर रूप से नुकसान पहुंचा सकते हैं |

इस तरह के और कई प्रकार के कीड़े होते हैं, आप insects name की पूरी जानकारी यहाँ प्राप्त कर सकते हैं |

कैसे बचे / How to prevent Cabbage Worm

इस कीटों से बचने के लिए बाजार में कई प्रकार की दवाइयां मौजूद हैं, जिनका छिडकाव करके इन कीटों से राहत पाया जा सकता है | दवाइयों को लाने के बाद थोड़े से पानी के साथ मिलाकर प्रत्येक 1 से 2 सप्ताह में दवा का छिडकाव करे | इससे फसल को बर्बाद करने वाले कीटो को रोका जा सकता है और साथ ही उनसे छुटकारा भी पाया जा सकता है |

अगर आप आर्गेनिक सब्जियां उगाना चाहते हैं और दवाईयों का उपयोग सब्जियों पर नहीं करना चाहते हैं तो आप बगानों या खेतो के चारो तरफ तुलसी और गेंदे पौधे लगाये | तुलसी के पौधे होने से कीड़े जल्दी नहीं आयेंगे, और अगर cabbage worm के कुछ कीड़े आ भी गए तो वह गेंदे के पौधे के ऊपर आयेंगे | इससे किसान भाइयों और आपको अपने पौधे बचने का समय मिल जायेगा |

ध्यान दे

आम तौर पर फसल में दवा का छिडकाव करने के बाद फसल में कुछ दवाइयां रह जाती है, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक भी हो सकता है | इसके आलावे ऐसा भी हो सकता है, की दवा के छिडकाव के बाद कीट फसल में ही मर जाए | ऐसे में इन फलों या सब्जियों का उपयोग करने से पहले इन्हें पानी में हल्के डिटर्जेंट मिलाकर ठीक प्रकार से धोले | उसके बाद ही इसका उपयोग करे अन्यथा यह आपके लिए नुकशानदायक भी हो सकता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *